Sunday, 26 March, 2017
Home > shiv

रंग बदलता है ये पर्वत

पहाड़ो की रानी ‘हिमाचल’ में भगवान शिव के अनेकों तीर्थ स्थल हैं।जो की बहुत प्रचलित और जाने माने है यहाँ और भी कई देवी देवताओ के तीर्थ स्थल है ।जहा लाखो की संख्या में श्रद्धालु आते है सैलानियों का तो यहाँ हमेशा ताँता लगा रहता है। आज हम बात करेगे

Read More

भगवान शिव ने काटा ब्रम्हा का सर इसलिए

यह हम सभी को ज्ञात ही है और इसका उल्लेख तो पुराणों में भी है की ब्रम्हा  विष्णु और महेश यह संसार के सबसे शक्तिशाली भगवान हैं।यह सम्पूर्ण संसार के करता धरता है । पर यह भी सच है की ये तीनो ही श्रेष्ठ है। पर होती पूजा सिर्फ विष्णु और

Read More

इसीलिए देवो पर नही चड़ते केतकी के फूल !

यह तो आप सभी जानते है की ब्रम्हा जी  इस श्रृष्टि के रचना कार माने जाते है पर ये बात भी सत्य है की उनकी पूजा मन्दिरों में नही की जाती उसके पीछे भी एक कथा है। ब्रम्हा और विष्णु से ही जुडी है केतकी के फूल की कथा भी

Read More

स्वयं महादेव भी नही बच पाए थे कर्म फल दाता शनि की वक्र द्रष्टि से !

भगवान शिव इस सुंदर श्रृष्टि के निर्माण नायक है उन्होंने इंसान जानवर सबको बनाया और देवो को शक्ति दी उन्ही में से एक देव है।शनि देव जिनको कर्म फलदाता की उपाधि प्रदान की। कथा के अनुसार : एक समय शनि देव भगवान शिव के धाम हिमालय पहुंचे। उन्होंने  भगवान  शिव को प्रणाम

Read More

महादेव के ये 19 अवतार के बारे में जानिए

महादेव जिनका न आदि है न अंत है तीनो लोक के निर्माण नायक है जिन्होंने कई अवतार लिए ,धर्म ग्रंथों  के अनुसार भगवान शिव ने 19  अवतार लिए थे। जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे है नीचे स्लाइड में देखे महादेव के वे अवतार कौन से थे।नीचे स्लाइड में

Read More

महाशिवरात्रि के पर्व पर करे ऐसे शिव को प्रसन्न

भगवान शिव एक ऐसे देवता है जो अपने भक्तों की पूजा पाठ सेबहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते है इसलिए इन्हें भोलेनाथ कहा जाता है और यही कारण था की असुर भी वरदान प्राप्त करने के लिए भगवान शिव की तपस्या किया करते थे और उनसे मनचाहा वरदान प्राप्त कर लेते

Read More

शिवरात्रि का व्रत शिव की कृपा प्राप्त करने का सबसे सुगम साधन है!

शिव को प्रसन्न कर कोई भी व्यक्ति कठिन समय तथा संकटों से उबरकर सभी प्रकार के पारिवारिक एवं सांसारिक सुख आदि प्राप्त कर सकता है। महा शिवरात्रि का व्रत फाल्गुन कृष्ण त्रयोदशी को किया जाता है। कुछ लोग चतुर्दशी को भी यह व्रत करते हैं। माना जाता है कि- सृष्टि के प्रारंभ

Read More

यह शिवलिंग अपने आप बड़ता जा रहा है !

देवो के देव महादेव के आपने बहुत से मंदिरों के बारे में सुना और देखा तो जरुर होगा भोले बाबा के चमत्कारों को सम्पूर्ण श्रृष्टि मानती है भोले नाथ का एक ऐसा ही एक अद्भुत मंदिर है जिसके चमत्कार देखने को मिल रहे है आजकल तो चलिए पढ़िए की क्या

Read More

एलिफेंटा की गुफाएं जाए देखने

एलिफेंटा की गुफ़ाएँ महाराष्ट्र राज्य के मुंबई शहर में पौराणिक देवताओं की अत्यन्त भव्य मूर्तियों के लिए विख्यात है। इन मूर्तियों में शिव की त्रिमूर्ति की मूर्ति सर्वाधिक लोकप्रिय है। ये गुफ़ाएँ मुंबई से 11 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।एलिफेंटा की गुफ़ाएँ मुम्‍बई महानगर के पास स्थित पर्यटकों का

Read More

बद्रीनाथ के दर्शन एक बार अवश्य ही करे!

बद्रीनाथ मंदिर , जिसे बद्री नारायण भी कहते हैं, अलकनंदा नदी के किनारे उत्तराखंड  राज्य में स्थित है। यह मंदिर भगवान विष्णु के रूप बद्रीनाथ को समर्पित है। यह हिन्दुओं के चार धाम में से एक धाम भी है। ऋषिकेश से यह 294 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर दिशा में

Read More