Monday, 25 September, 2017
Home > खेत खलियान

बिना अनुभव शुरू की चंदन की खेती और बन गया करोड़पति ये किसान

भारत को सोने की चिड़िया क्यों कहा जाता है ये तो आप सभी जानते ही होंगे भारत एक  कृषि प्रधान देश हैं यहाँ किसान साल भर खेती करते है और

जैविक खाद का खेतो में महत्व जाने

आजकल जैविक और अजैविक पदार्थो के चक्र का संतुलन बिगड़ता जा रहा है और वातावरण प्रदूषित होकर, मानव जाति के स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहा है। अब हम रसायनिक खादों,

फूलो की करे खेती और पाए दुगनी कमाई

फूलों का महत्व बहुत है  हर जगह चाहे तीज त्यौहार हो या शादी विवाह में फुल अवश्य उपयोग में लाये जाते है। फूलो के बिना हर पवित्र काम अधुरा रह

गोमूत्र और गोबर उत्तम उर्वरक है खेतो के लिए

गाय के मूत्र और गोबर का एक सही उपयोग किया जाये। तो खेती में आप चार चौगनी तरक्की कर सकते है। और अपनी खेती को खूब बड़ा सकते है ।अच्छी

सूरजमुखी जो नही करता किसानो को दुखी

सूरजमुखी की उत्पादन क्षमता व अधिक मूल्य के कारण सूरजमुखी की खेती, हरियाणा के किसानों में दिनोंदिन लोकप्रिय होती जा रही है। सूरजमुखी को बड़े पैमाने पर उगाने से न केवल

किसान भाइ ऐसे बनाए अपने खेतो के लिए केंचुआ खाद

केंचुआ किसानो का मित्र माना जाता है जो खेतो को उपजाऊ बनाने में किसानो की बहुत सहायता करता है। इनके द्वारा बनाए गए खाद में नाइट्रोजन, पोटैशियम एवं फास्फोरस होता

खेती करने का हो शौक तो ज़मीन की भी जरूरत नही बस छत होना चाहिए

हीसार  में एक व्यक्ति ने बिना ज़मीन के अपने घर की छत को ही बना दिया खेत हरियाणा के टोहाना के गांव जापतावाला के किसान हरबंस सिंह ने अपने दिमाग

अब घर में उगाये खुद मशरूम

मशरूम अधिकतम प्रोटीन देता है। इसे घर के किसी भी नमी वाले कोने में उगाया जा सकता है। शाकाहारी परिवारों की प्रोटीन की ज़रूरत को पूरा करने के लिए प्रोटीन