क्या आप है ?डिजिटल की दुनिया में सुरक्षित

क्या आप है ?डिजिटल की दुनिया में सुरक्षित (  )

आजके दौर में हर कोई  इंसान डिजिटल की लाइफ जी रहा है|ऐसे में खुदको सुरक्षित रखना जरुरी है तो जाने कैसे आप खुद को सुरक्षित रख सकते हैआजकल डाटा चोरी के किस्से तो खूब चल रहे है| हैकर्स डाटा चोरी करने के लिए तरह तरह हत्कंडे अपनाते है|अभी एसी कोई तकनिक  मौजूद नही जो एसे अपराधो को रोक सके|लेकिन एसे हमले रोकने के लिए पूरी तैयारी करके रखना समझदारी वाला कदम है ।आप अपनी सुरक्षा केलिए सतर्क और सावधान रहे पहले से ही डिजिटल की दुनिया में कई तरह के खतरे हो सकते है तो  आइए  जाने वे खतरे क्या है ।

डिजिटल की दुनिया में है आपको इन बातो का खतरा जैसे –

Advertisement

एंड्राइड पर खतरा:

एंड्राइड पर होने वाले हमलो की संख्या में भी बढ़ोतरी होती जा रही है|हम सुरक्षा पर ध्यान नहीं देते इसी का फायेदा  उठा कर हैकर किसी भी एंड्राइड स्मार्ट फोन को अपने कंट्रोल में लेकर उसमे ऑडियो फाइल में क्न्वर्ड किये गए अवैध प्रोग्राम सक्रिय कर सकते है जिसे mp3   या  mp4 फार्मेट में भेजा जा सकता है ।

वर्चुलाईजेसन फर्मवेयर का खतरा :

इसकी सुरक्षा की कमियों से साइबर अपराधियों को मोका मिल जाता है इस अपराध को अंजाम देने का और इस वजह से वर्चुल मशीने खतरे में हो सकती है|क्योकि सिस्टम फर्म वेयर के साथ यह नया टारगेट हो सकती है|साइबर अपराधी इसे किसी भी कार्पोरेट नेटवर्क में घुस पैठ के लिए इसे नया तरीका बना सकते है|और महत्वपूर्ण जानकारी नेटवर्क से चोरी कर सकते है ।

रैनसमवेयर का खतरा:

यह एक बड़ा  खतरा बनके उभरने वाला है|किसी भी साइबर अपराधी के लिए अपने शिकार से पैसे ठगने या फिरोती मांगने के लिए यह सबसे आसानी वाला तरीका होगा ।

आईओएस मेलवेयर का खतरा :

यह बात हाल ही में इस्टाग्राम एप युजर्स में पता चली की यह एप यूजर्स के युसर नाम और पासवर्ड स्टोर कर अज्ञात सर्वर पर भेजता है|साइबर अपराधियों ने एप बनाने वाले सोफ्टवेयर एक्स्कोड का अवेध वर्जन बना रखा है अगर इसे किसी ने डाउनलोड कर लिया तो उनके निजी डाटा चोरी कर  हैकर्स अपने नियत्रंण में चलाने लगेगे  इसलिए  ऐसे खतरों से रहे हमेसा सावधान ।

Advertisement

No Data
Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>