Monday, 25 September, 2017
Home > धर्म कर्म

“विश्वकर्मा” भगवान कौन है और क्यों की जाती है इनकी पूजा जानिए

हिन्दू धर्म के अनुसार निर्माण एवं सृजन के देवता भगवान विश्वकर्मा कहलाये जाते हैं। यही कारण हैं कि उन्हें देवताओ में शिल्पकार देव माना जाता है। देश के प्रमुख त्यौहारो में विश्वकर्मा

भगवान गणेश को आखिर क्यों? लगा हाथी का सिर, जानिए

शिवपुराण की कथा के अनुसार माता पार्वती ने अपने शरीर पर हल्दी का उबटन लगाया था फिर उस उबटन को हाथो से रगड़ कर निकाला और जमा किया उससे उन्होंने

साल 2017 का सावन, 50 साल बाद लाया 5 सोमवार का अति शुभ संयोग

10 जुलाई सोमवार से सावन का पावन महीना शुरू हो गया है। ऐसा माना जाता है की सावन भगवान शिवजी का प्रिय महीना होता है। वैसे तो सभी दिन भगवान

Rajasthan ajmer sharif dargah example of unity

अजमेर शरीफ दरगाह: एकता की अद्भुत मिसाल

भारत के राजस्थान राज्य के अजमेर में स्थित अजमेर शरीफ़ दरगाह प्रसिद्ध सूफ़ी संत मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह है, जिसमें उनका मक़बरा बना है। एक अंग्रेज लेखक कर्नल टाड ने

श्राप ! से देवी-देवता भी नही बच पाए,स्वयं विष्णु ने भी उठाया था श्राप का भार

अधिकतर श्राप ऋषि-महर्षियों द्वारा मनुष्य  को दिया जाता था। ये तो आप अवश्य जानते होंगे पर भगवान को भी श्राप का सामना करना पड़ा था। क्या ये आप जानते है?

अगर चाहते है घर पर दरिद्रता कभी ना आये, तो भूलकर भी ना करे ‘किन्नरों’ को ये चीज़े दान

वैसे तो कई धारणाये है लोगो की किन्नरों के प्रति कई लोग कहते है अगर किन्नर एक रुपय का सिक्का दे तो वो बहुत शुभ होता है। उस सिक्के द्वारा

माँ पार्वती : ननद से तंग आकर बोली,बड़ी भूल हुई कि मैंने ननद की चाह की

शास्त्रों के अनुसार माँ पार्वती ने शिव की पूजा कर उनको पति के रूप में पाने की तपस्या की तब भगवान शिव और पार्वती का विवाह सम्पन्न हुआ भोले भंडारी

पाप के बाद मिलने वाली पीड़ा को दर्शाने के लिए बनवाया गया है !ये मंदिर

थाईलैंड की राजधानी बैंकाक के चियांग माइ शहर में कहते है 300 से भी अधिक मंदिर हैं । लेकिन वहा एक और मंदिर है ,जो सबसे अलग है। यहाँ आपको

हिन्दू धर्म में महान मानी जाती थी ये सतियाँ

हिन्दू धर्म में सतियों का बड़ा महत्त्व है। इन स्त्रियों को अपने जीवन में अत्यंत कठिनाइयों का सामना करना पड़ा और साथ ही साथ समाज ने इनके पतिव्रत धर्म पर

भगवान शिव ने ब्राह्मण रूप धर की माता सीता और राम की अनगिनत परीक्षाएँ

ऐसी कई कहानियां है जिसमे आपने सुना होगा देवी देवताओ को भी परीक्षा देने होते थे सफलता पाने के लिए तो इंसान क्या चीज़ है ,देवी देवता ही परीक्षा देते