जन्मी बिना खोपड़ी की बच्ची, सिर पर है गहरा गड्ढा

जन्मी बिना खोपड़ी की बच्ची, सिर पर है गहरा गड्ढा ( skull less baby girl born in cambodia )

बच्चे बेहद नाजुक और कोमल होते हैं। एक स्वस्थ बच्चे के जन्म से पुरे घर में खुशी की लहर दौड़ पड़ती है। लेकिन हम जिस बच्चे की आज बात करने जा रहे हैं वो अन्य बच्चों की तरह सामान्य नहीं हैं । आपको जानकर हैरानी तो जरुर होगी लेकिन ये सच है कि इस बच्ची की खोपड़ी नहीं है, इसका दिमाग भी पूरी तरह विकसित नहीं है।

तीन महीने की बच्ची

Advertisement

इस बच्ची का सिर काफी बड़ा है साथ ही सिर के पीछे सूजन है। यह मात्र तीन महीने की बच्ची है जो जिंदगी और मौत के बीच लड़ रही है। इस बच्ची को देखकर डॉक्टर और अन्य लोग भी काफी हैरान हैं।

बच्ची के इलाज में घर बिक गया

इस तीन माह की बच्ची का जन्म कंबोडिया के एक गांव में हुआ है। इसका नाम अल नीथ रखा गया है। इस बच्ची के माता-पिता बहुत गरीब हैं इस बच्ची के इलाज के लिए उन्होंने अपना घर तक बेच दिया। लेकिन फिर भी पैसे कम पड़ गए अब इसके माता-पिता लोगों से मदद की गुहार लगाने लगे हैं।

पैसे न होने की वजह से इलाज रुका

Advertisement

बच्ची के माता-पिता द्वारा  पैसे पूरे ना जोड़ पाने की वजह से अस्पताल ने बच्ची को डिसचार्ज कर दिया।  बच्ची की सांसें चलती रहे इसके लिए एक सर्जरी की बहुत जरूरत है। लेकिन ये तय नहीं है कि उसके बाद भी वह सामान्य जिंदगी जी पाएगी या नहीं।

बच्ची को ऐनिन्सेफली डिसॉर्डर नामक एक रोग है जिसकी वजह से इसका दिमाग विकसित नहीं हो पाया और खोपड़ी भी नहीं है।

इस दुर्लभ बीमारी की दो बड़ी वजह है

  • विशेषज्ञों के अनुसार अनुवांशिक कारणों और गर्भवती महिला के आसपास मौजूद वातावरण की वजह से बच्चे का दिमाग नहीं विकसित हो पाता। गर्भधारण के 23 से 26वें दिन अगर शरीर में कुछ विशेष तत्वों की कमी हो तो इसकी संभावना बढ़ जाती है।
  • दूसरी वजह अगर किसी के खानदान में न्यूरल डिसॉर्डर वाले बच्चे का जन्म होता है, तो उस परिवार के अन्य बच्चों में इसकी संभावना 4 से  6 फीसदी तक बढ़ जाती है।
No Data

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>