रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना है तो करे मौसमी का सेवन

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना है तो करे मौसमी का सेवन ( amazing mausambi fruit benfits of health )

मौसमी विटामिन ए और सी का स्रोत माना जाता है। मौसमी बच्चों के शरीर के लिए बेहद ही लाभदायक है ।क्योंकि इसके सेवन से शारीरिक कमजोरी दूर होती है।तो चलिए नीचे पढ़िए की मौसमी जैसे फल से क्या लाभ होते है।

मौसमी का सेवन और उसके लाभ:

  • इससे न केवल शारीरिक निर्बलता दूर होती है बल्कि कब्ज से भी राहत मिलता है।
  • इसमें मौजूद विटामिन सी की मात्रा न केवल रोग प्रतिरोधक की क्षमता को बढ़ाता है बल्कि वजन को घटाने में भी सहायक है।
  • मुंहासे की समस्या भी दूर होती है। लोग इसका सेवन बालों को मजबूत बनाने के लिए भी करते हैं।
  • जो महिलाएं गर्भवती है, उस दौरान यह फल भ्रूण के विकास के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें विटामिन के अलावा प्रचुर मात्रा में कैल्शियम भी होता है।

orangejuice

Advertisement

रोगों की समस्या करे दूर ऐसे –

  • गर्भावस्था में  उलटी के कारण स्त्रियां अधिक पौष्टिक आहार नहीं ले पाती। ऐसी स्थिति में उन्हें प्रतिदिन मौसमी का जूस पीना चाहिए। मौसमी के जूस में अनार या संतरे का रस मिलाकर पीने से उलटी की समस्या दूर होती है।
  •  शरीर में जब पानी की कमी हो तो आप ज्यादा से ज्यादा मौसमी का सेवन कीजिए।
  • किसी भी रोग से अधिक समय तक पीड़ित रहने पर या शारीरिक निर्बलता अधिक होने पर मौसमी का रस पिलाने से निर्बलता नष्ट होती है। मौसमी का रस आंतों में एकत्र विषैले अंश को भी निकालता है।
  • मौसमी रस की  मीठी सुगंध से अत्यधिक मात्रा में लार बनती है,जिससे पाचक रस और एसिड का स्राव होता है जो जल्दी से भोजन को पचाने के कार्य को बढ़ाता है।
  • मौसमी का रस त्वचा के लिए बहुत अच्छा है और यह काले धब्बे और पिंपल्स को दूर करने में मदद करता है। यह भी चेहरे पर चमक और कांति प्रदान करता है।
  • मधुमेह रोगियों के लिए मौसमी का रस काफी राहतकारी है ।
  • मूत्र विकार में तत्काल राहत के लिए मौसमी का रस पानी में उबालक ठंडा करने के बाद कुछ घंटों के भीतर ले लिया जाना चाहिए। इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी।
  • मौसमी का  रस पीने से कोलेस्ट्रॉल कम होता है और रक्तचाप को भी कम करता है। रोजाना मौसमी का जूस पीने  से कोलेस्ट्रॉल से निजात पाई जा सकती है।
No Data

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>