अगर मान ली ये बात तो जरूर मिलेगा ईश्वर का साथ

एक बार श्रीकृष्ण और अर्जुन वार्तालाप करते हुए नगर की ओर भ्रमण के लिए निकले। मार्ग में उन्हें एक ब्राह्मण भिक्षा मांगते हुए दिखाई पड़ा।निर्धन ब्राह्मण की दशा देखकर अर्जुन