कुछ न करना

कुछ न करना ( nothing do )

कुछ न करना

  • कुछ न कुछ कर बैठने को ही कर्तव्य नहीं कहा जा सकता
  • कोई समय ऐसा भी होता है,
  • जब कुछ न करना ही
  • सबसे बड़ा कर्तव्य माना जाता है

– रवीन्द्रनाथ ठाकुर

Advertisement
No Data

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>