देवशयनी एकादशी पर करें ये 6 काम और कर लें हर मनोकामना को पूरी

Devshayani ekadashi in 2018
Devshayani ekadashi in 2018

आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष को “देवशयनी एकादशी” कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष को “देवशयनी एकादशी” में हर मनोकामना पूर्ति की जा सकती है।आपको बता दें देवशयनी एकादशी मे सारे शुभ कार्य बंद हो जाते हैं इस दौरान कोई शुभ कार्य नहीं किया जा सकता क्योंकि शास्त्रों के अनुसार इस दिन से भगवान विष्णु चार महीने के लिए पाताल लोक में विश्राम करने चले जाते हैं।

लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष को “देवशयनी एकादशी” पर ऐसा क्या किया जाये की हर मनोकामना पूरी हो सकती है तो चलिए नीचे पोस्ट में पढ़िये…

Advertisement

घर की साफ सफाई

कलश

देवशयनी एकादशी के दिन आपको सुबह उठकर सबसे पहले घर की साफ सफाई करनी है फिर पूरे घर में गंगाजल या हल्दी मिले जल का छिड़काव करना है।

शुद्ध घी का दीपक जलाएं

घी का दीपक

वदेशयनी एकादशी पर आपको शाम के समय तुलसी के सामने गाय के शुद्ध घी का दीपक जलाना चाहिए और तुलसी माता को दोनों हाथों को जोड़ कर प्रणाम भी करना है।

108 बार जाप

agarbatti

देवशयनी एकादशी के दिन “ॐ नमो नारायणाय” या “ॐ नमो भगवते वसुदेवाय नम:” का 108 बार जाप करें।

निर्जला व्रत रखना चाहिए

पूजा पाठ

वैसे तो देवशयनी एकादशी के दिन निर्जला व्रत रखना चाहिए। लेकिन आप निर्जला व्रत रखने में सक्षम नहीं हैं तो आप ऐसे में एक टाइम का फलाहार कर इस व्रत को रख सकते हैं।

Advertisement

लक्ष्मी की प्राप्ति के लिए

माँ लक्ष्मी

अगर इस दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी को केसर मिले जल से अभिषेक किया जाये तो प्रभु खुश होते हैं और धन-धान्य तथा लक्ष्मी से घर को भर देते हैं।

पीला रंग है भगवान को प्रिय

भगवान विष्णु को सबसे ज्यादा पीला रंग प्रिय होता है। इसलिए इस दिन भगवान विष्णु को पीली खीर, पीले फल या पीले रंग की मिठाई का भोग जरुर लगाएं। ऐसा करने से भगवान खुश होते है।

No Data

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes:

<a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>