श्री महालक्ष्मी चालीसा

॥ दोहा॥ जय जय श्री महालक्ष्मी करुँ मात तव ध्यान । सिद्ध काज मम कीजिए निज शिशु सेवक जान ॥ ॥ चौपाई ॥ नमो महा लक्ष्मी जय माता, तेरो नाम जगत विख्याता । आदि शक्ति