Home > 2018 > जुलाई

1943 में बंगाल में पड़े भयंकर अकाल की ये तस्वीरें आज भी रूह कंपा देती है

भारत देश में कई ऐसी त्रासदीयां हुई है जो दिल को दहला देने वाली थीं। भारत में हुए उन त्रासदी में जान और माल दोनों की बहुत ज्यादा ही हानि

कारगिल विजय दिवस स्पेशल : कारगिल युद्ध की दिल झंझोड़ देने वाली तस्वीरें

26 जुलाई 1999 को हुए कारगिल युद्ध को पुरे 19 हो गए है। इस दिन हमारे कई जवान शहीद हुए थे साथ ही कई जवान बुरीतरह घायल भी हुए।  उनके 

कारगिल विजय दिवस स्पेशल : 18 हजार फीट की ऊंचाई पर कारगिल में लड़ी गई विजय की जंग

आज कारगिल में लड़ी गई लड़ाई को पुरे 19 साल हो गए है 26 जुलाई 1999 भारत ने कारगिल युद्ध में पाकिस्तान पर विजय हासिल की थी। तभी से इस

Gehun Vahi Boyega Jisko Kabhi Ubasi Na Aai Ho Tenaliram Kahani In Hindi

गेहूं वही बोएगा जिसको कभी उबासी न आई हो…….

इस कहानी में महाराज कृष्णदेवराय अपनी महारानी तिरुमाला से किसी बात को लेकर नाराज हो जाते हैं और बात तक करना बंद कर देते हैं लेकिन अपनी सूझ बुझ से

सावन 2018 : तो ऐसे आए शिव के गले में नाग और हाथ में डमरू

ये तो हम सभी ही जानते हैं कि भगवान शिव का सबसे प्रिय महिना सावन है और आपको बता दें कि इस वर्ष पहला सोमवार 30 जुलाई को है। सभी

“चंद्रग्रहण” पर इन चीजों का दान करने से दूर होते हैं सारे कष्ट

इस बार 27 जुलाई को सबसे लंबा चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। ज्योतिषियों की माने तो इस ग्रहण का अलग-अलग राशी पर अलग-अलग असर पड़ने वाला है। ऐसे में एक मान्यता

जन्मदिन स्पेशल : पद्मश्री मनोज कुमार के जीवन से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें

बॉलीवुड में प्रेम और मसाला मूवी की लीक से हटकर सिर्फ देशभक्ति की फिल्में बनाने की बात आएगी तो सबसे पहले नाम मनोज कुमार उर्फ भारत कुमार का लिया जाएगा।

एक्टिंग छोड़ चुकी तनुश्री दत्ता का बदला रूप, अब दिखती हैं ऐसी

2004 में मिस इंडिया रह चुकी बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्ता फिल्म 'चॉकलेट' और 'आशिक बनाया आपने' जैसी सुपरहिट फिल्म में नजर आई थी। लोग उनकी हॉट अदाओं पर फ़िदा हो

“लाफिंग बुद्धा” को घर पर रखने से होते हैं ये चमत्कारी लाभ

“चीनी फेंगशुई” वास्तुशास्त्र के अनुसार लाफिंग बुद्धा को बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि लाफिंग बुद्धा को घर पर रखा जाये तो घर में सुख

Devshayani ekadashi in 2018

देवशयनी एकादशी पर करें ये 6 काम और कर लें हर मनोकामना को पूरी

आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष को “देवशयनी एकादशी” कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष को “देवशयनी एकादशी” में हर मनोकामना पूर्ति की जा