Home > 2016 > सितंबर

सीख – पर्वत कहता शीश उठाकर कविता अर्थ सहित

सिख पर्वत कहता शीश उठाकर, तुम भी ऊँचे बन जाओ। सागर कहता है लहराकर, मन में गहराई लाओ। समझ रहे हो क्या कहती हैं उठ-उठ गिर-गिर तरल तरंग भर लो भर लो अपने दिल में मीठी-मीठी मृदुल

नवरात्री के नौ दिन और माँ के नौ स्वरूपों का अर्थ जानिए

देवी दुर्गा के नौ रूप के नाम व अर्थ प्रथम् शैल-पुत्री च, द्वितियं ब्रह्मचारिणि तृतियं चंद्रघंटेति च चतुर्थ कूषमाण्डा पंचम् स्कन्दमातेती, षष्टं कात्यानी च सप्तं कालरात्रेति, अष्टं महागौरी च नवमं सिद्धिदात्री नवरात्र तिथि देवी स्वरुप का नाम अर्थ पहला

जाने 2016 में श्राद्ध की तिथि तथा श्राद्ध का महत्त्व और इसे कैसे किया जाता है

ऐसा माना जाता है की किसी मनुष्य के  ,मरने के बाद विधिपूर्वक श्राद्ध और तर्पण ना किया जाए तो उसे मुक्ति नहीं मिलती और उसकी  आत्मा भूत के रूप में

इसीलिए नहीं चढ़ाई जाती भगवान गणेश को तुलसी दल

माँ पार्वती तथा महादेव के पुत्र श्री गणेश के बारे में रोचक कथा वैसे तो  श्री गणेश का पूर्ण जीवन ही रोचक घटनाओं से भरा है भगवान गणेश  जी को

maa vaishno devi katra jammu

आप माँ वैष्णो देवी के दरबार जाना चाहते हैं, तो जानिए माँ के दरबार की यात्रा कैसे होती है

चलो बुलावा आया हैं माता ने बुलाया हैं, अगर आपका भी बुलावा आ गया हैं तो माँ वैष्णो के दरबार जाने से पहले जरा जान लीजिए कि माता वैष्णो रानी

श्री सत्यनारायण व्रत कथा

भगवान सत्यनारायण कौन है उन्हें क्या प्रसाद चढ़ता है तथा उनकी कथा क्या है आइए जाने

यह कथा भगवान विष्णु  के सत्य स्वरूप की सत्यनारायण व्रत कथा है। सत्यनारायण भगवान की कथा लोगो में बहुत प्रचलित है।  यह हिंदू धर्म में  सबसे प्रतिष्ठित व्रत कथा के

पर्वत हिमालय हमारा

पर्वत हिमालय हमारा "कितनी सदिया बीत चुकी है। एक जगह खड़ा हिमालय रखवाली का वचन निभाए, कर्तव्यों की कथा सुनाए । अविचल और अडिग रहकर नित, मुश्कानो के कोष लुटाए। भारत माता के मस्तक पर

सूर्य पर्वत के गुण और प्रभाव के बारे में जाने

सूर्ये प्रधान जातक की आँखों की रोशनी कुछ हल्की होती है |सूर्ये प्रधान व्यक्ति हमेशा प्रशन्न रहता है|तथा स्वश्थ,और रूपवान होता है|मन,हृदय,और शरीर से हस्टपुष्ट होता है|चमकदार बादामी आँखे ,अच्छी 

“खूबसूरती” का खजाना बस इनके पास ही होता है

सुन्दरता अपने आप में एक खजाना है। जिसको भगवान ये खजाना देता है वह लोगों को बिन कुछ बोले ही अपनी तरफ आकर्षित कर लेता है। हर  इंसान चाहता है

रोज रोज एक ही तरह की सब्जी खा कर बोर हो गए हो,तो बनाइए मिक्स सब्जी

घरो में अकसर थोड़ी थोड़ी हरी सब्जिया बच ही जाती है ।तो हम इन सबको मिला कर एक जायकेदार स्वादिष्ट सब्जी बना सकते है... मिक्स सब्जी की सामग्री हरीमटर–50ग्राम बींस–50ग्राम गोभी–250ग्राम