Home > नारी जगत > आप चलाती है वाहन तो अपने ट्रैफिक अधिकार जान लीजिए

आप चलाती है वाहन तो अपने ट्रैफिक अधिकार जान लीजिए

आप चलाती है वाहन तो अपने ट्रैफिक अधिकार जान लीजिए ( did you know traffic rule )

आपने देखा होगा पुलिस हर सिग्नल चौराहे पर खड़ी होकर यातायात के नियमों को तोड़ने वाले लोगों के खिलाफ कार्यवाही करती है और उनसे यातायात नियम तोड़ने के बदले में जुर्माना वसूला जाता है।यह एक तरह से सही भी है यह सब वाहन चालको की सुरक्षा के लिए ही है , लेकिन क्या आप इस बात को जानते हैं कि किसी भी ट्रैफिक हवलदार को आपकी गाड़ी से जुड़े कुछ अधिकार नही दिए गए है जिनको जानना जरुरी है आपके लिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे ही ट्रैफिक नियम के बारे में जिनके बारे में आप नहीं जानती होंगी इसी विषय पर आज हम आपको जानकारी देने जा रहे है नीचे पढ़िए अपने  ट्रैफिक से जुड़े कुछ अधिकारो को,

पेपर्स दिखाने से साफ मना कर सकती हैं

आपने देखा होगा ट्रैफिक हवलदार आपकी गाड़ी को रोक कर आपसे पेपर्स दिखाने के लिए कहता है तो आप उसे साफ-साफ मना कर सकती हैं।और यदि वो फिर भी आपके साथ बतमिज़ी करता है तो उसके सीनियर अथॉरिटी से उसकी कम्प्लेंट भी कर सकती हैं।

1468493891399

आपकी जानकारी के लिए यह जान ले की ,ट्रैफिक लॉ के अनुसार, एएसआई रैंक या उससे बड़े पद का कोई अधिकारी ही आपसे आपकी गाड़ी के कागज मांगने का अधिकार रखता है।

वाहन जब्त करने का अधिकार नही है

आपका वाहन जब्त करने का अधिकार किसी भी ट्रैफिक हवलदार को नहीं होता है। बल्कि वह आपसे पॉल्यूशन अंडर-कंट्रोल पेपर्स(पीयूसी) भी नहीं मांग सकता है यह अधिकार सिर्फ आरटीओ ऑफिशियल्स का होता है।

1485320232362

गाड़ी से चाबी निकालने का अधिकार नही है

एक बात ध्यान रखे अगर आप किसी तरह का यातायात नियम तोड़ती हैं तब भी उस हवलदार को आपकी गाड़ी से चाबी निकालने का कोई अधिकार नहीं होता है।यातायात नियम तोड़ने पर आपसे पेनल्टी भी सिर्फ असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर(वन स्टार), सब-इंस्पेक्टर(टू-स्टार) और पुलिस इंस्पेक्टर(थ्री स्टार) ही वसूल सकते हैं। ट्रैफिक हवलदार सिर्फ उनकी मदद कर सकता है लेकिन आपसे पेनल्टी नहीं वसूल सकता।

Title: did you know traffic rule in Hindi | In Category: नारी जगत  ( women-world )

मिली-जुली खबरें

Shanu Shetri
Shanu Shetri - Author at hindirasayan.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *