Tuesday, 24 October, 2017
Home > नारी जगत > 17 साल की इस मासूम ने गरीबी के चलते वो कर दिखाया,जो हर कोई नही कर पाता

17 साल की इस मासूम ने गरीबी के चलते वो कर दिखाया,जो हर कोई नही कर पाता

17 साल की इस मासूम ने गरीबी के चलते वो कर दिखाया,जो हर कोई नही कर पाता ( 17 year old innocent showed that due to poverty which does not everyone )

आपको आज हम बताने जा रहे है एक सिर्फ 17 साल की लड़की की काहानी जिसने अपनी मेहनत और लगन से ये साबित कर दिया है ,की जब पढ़ने की लगन हो तो ये गरीबी और पैसे की कमी भी कुछ नही कर सकती, इस लड़की का नाम ईलू अफशां है ।देखने में ये और लडकियों की तरह ही आम सी लड़की है पर इसने जो कर दिखाया वो आम बात नही है ।दरअसल जो बच्चे सब सुख-सविधा के बावजूद नही कर पाते वो इस लड़की ने 10 घरो से भी अधिक घर में काम करने के वाबजूद कर दिखाया चलिए जानते है ईलू की कहानी के बारे में…

10 घर से भी ज्यादा घरो में काम करने के बाद भी कर दिखाया,इस लड़की ने की हिम्मत और होसला हो तो क्या नही हो सकता

ईलू अफशां  घर-घर जा कर झाड़ू-पोंछा, बर्तन, कपड़े धोने, खाना बनाने का काम करती हैं और अपनी पढाई भी बराबर करती है आप ही सोचिये जो लड़की इतने घरो में काम करती हो वो कैसे पढ़ पाती होगी। आपको जानकर हैरत तो जरुर होगी की ईलू , इतनी मुश्किलों के बाद भी गवर्नमेंट प्री-यूनिवर्सिटी कॉलेज की परीक्षा में अच्छे नंबर से पास हुई है

बेंगलुरु मिरर की खबर  के अनुसार इस लड़की के पिता उसके परीक्षा के दौरान ही बीमार पड़ गए ।ईलू के पिता घरों में पेंट का काम करते थे, लेकिन हादसे में वे पैर गंवा चुके थे और गरीबी ने इन्हें बहुत परेशान कर दिया था। ईलू की मां घरों में काम कर परिवार का खर्च चलाती थीं लेकिन तबियत खराब होने के बाद उन्होंने भी काम छोड़ दिया।  ऐसे में ईलू को पिता की सेवा भी करनी पड़ती और घरो में काम करने भी जाना पड़ता पढने का समय बिलकुल नही बचता था तो भी वह अच्छे नम्बर से पास हो गई।

अब ईलू अपनी कमाई से ही पूरे परिवार के खाने, मां-पिता के ईलाज और बहन-भाई की पढ़ाई का खर्च निकालती है ,ईलू की बहन ने इसी साल 10वीं की परीक्षा पास की है और भाई 8वीं में है। ईलू अफशां चाहती हैं कि वह खुद के साथ अपने भाई-बहन को भी पढ़ा पाए और तीनों लोग अच्छी नौकरी पाने के काबिल हो सकें।

Title: 17 year old innocent showed that due to poverty which does not everyone
Shanu Shetri
Shanu Shetri - Editor at hindirasayan.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *