Sunday, 20 August, 2017
Home > आज का विचार > बरसात का पानी

बरसात का पानी

बरसात का पानी ( rain water )

”बरसात होने का दुःख वो क्या जाने जिसके  पक्के मकान हो ”

”उनके लिए तो बरसात मतलब चाय पकोड़े का आनन्द लेना है ”

”बरसात का दुःख तो वही जाने जिसका मकान टुटा झोपड़ा हो”

”सोने का बिस्तर गिला हो सर झुपाने की जगह न हो”

” भीगा थराता कापता बदन हो ”

” और बरसात के पानी में सब भीग चूका हो ”

”आँखों का पानी भी बरसात के पानी में छुप गया हो ”

Title: rain water

मिली-जुली खबरें

Shanu Shetri
Shanu Shetri - Editor at hindirasayan.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *