Wednesday, 16 August, 2017
Home > vishnu

श्राप ! से देवी-देवता भी नही बच पाए,स्वयं विष्णु ने भी उठाया था श्राप का भार

अधिकतर श्राप ऋषि-महर्षियों द्वारा मनुष्य  को दिया जाता था। ये तो आप अवश्य जानते होंगे पर भगवान को भी श्राप का सामना करना पड़ा था। क्या ये आप जानते है?

उदयगिरी की गुफाएँ जो मन मोह ले

10 वीं शताब्दी में जब उदयगिरी विदिशा धार के परमारों के हाथ में आ गया, तो राजा भोज के पौत्र उदयादित्य ने अपने नाम से इस स्थान का नाम उदयगिरि

भगवान शिव ने काटा ब्रम्हा का सर इसलिए

यह हम सभी को ज्ञात ही है और इसका उल्लेख तो पुराणों में भी है की ब्रम्हा  विष्णु और महेश यह संसार के सबसे शक्तिशाली भगवान हैं।यह सम्पूर्ण संसार के

इनका सम्मान करने पर धर्म, अर्थ, काम व मोक्ष, सब कुछ प्राप्त हो सकता है

भगवान विष्णु परमात्मा के तीन स्वरूपों में से एक जगत के पालक माने गए हैं। श्रीहरि ऐश्वर्य, सुख-समृद्धि और शांति के स्वामी भी माने जाते  हैं।भगवान विष्णु को प्रशन्न करने

बद्रीनाथ के दर्शन एक बार अवश्य ही करे!

बद्रीनाथ मंदिर , जिसे बद्री नारायण भी कहते हैं, अलकनंदा नदी के किनारे उत्तराखंड  राज्य में स्थित है। यह मंदिर भगवान विष्णु के रूप बद्रीनाथ को समर्पित है। यह हिन्दुओं

समुद्र में बसे है यहाँ भगवान आज भी

हिन्दुओं के धार्मिक स्थल वैसे तो पूरी दुनिया में फैले हुए है। संसार में एक जगह ऐसी भी है, जहां समुद्र के नीचे धार्मिक स्थल देखने को मिलते है।आइए देखते

garudbhagwan vishnu

गरुड़ पुराण : ये 5 काम जिनको करने से होती है आयु कम

गरुड़ पुराण के अनुसार 5 काम को  करने से आपकी आयु कम हो जाती है तो आइए जाने की क्या है वे चीज़े जिनके करने  से आपकी आयु कम हो जाती

भगवान सत्यनारायण कौन है उन्हें क्या प्रसाद चड़ता है तथा उनकी कथा क्या है आइए जाने

यह कथा भगवान विष्णु  के सत्य स्वरूप की सत्यनारायण व्रत कथा है। सत्यनारायण भगवान की कथा लोगो में बहुत प्रचलित है।  यह हिंदू धर्म में  सबसे प्रतिष्ठित व्रत कथा के