Home > shani
Saturn In First House Of Kundli पहले घर में शनि

जन्मकुंडली के प्रथम भाव में स्थित शनि का फल (Saturn in First House)

लग्न में शनि जन्मकुंडली का प्रथम भाव इसे लग्न भी कहते हैं। यह जातक की शारीरिक आकृति, स्वभाव, वर्ग, चिन्ह, व्यक्तित्व, व्यक्ति के चरित्र, मुख, गुण व अवगुण, जातक के प्रारंभिक

सूर्य एवं शनि के बीच है ये सम्बंध !

नवग्रह मंडल में भी कुछ ग्रहों में आपस में पिता-पुत्र संबंध हैं जो कि व्यक्ति की जन्मपत्रिका को भी प्रभावित करते हैं। यह पिता-पुत्र सूर्य एवं शनि हैं। इनके वैर

इन मन्दिरों का रहस्य कोई नही समझ पाया है आजतक

भारत में करोड़ो देवी देवताओ के मंदिर है । पर आपको इन देवताओ के बारे में पड़कर थोड़ा आश्चर्य होगा इन देवताओ के बारे में जानना चाहते है और इनके रहस्य