Monday, 16 January, 2017
Home > putra

इन श्रापो का आज भी बना हुआ है अस्तित्व

हिन्दू धर्म ग्रंथो में अनेको श्रापो का वर्णन है।पर क्या आप जानते है  हर श्राप में कोई न कोई कारण छुपा था।  उनके द्वारा श्रापित किया गया हर श्राप में संसार की ही भलाई थी ।इसी प्रयोजन से श्राप दिया गया तो आइए हम आपको कुछ श्राप के बारे में

Read More

सोमवार की व्रत कथा

व्रत कथा कथा के अनुसार   एक नगर में एक धनी व्यापारी रहता था। सबकुछ होने पर भी वह व्यापारी  बहुत दुखी था क्योंकि उस व्यापारी का कोई पुत्र नहीं था। दिन-रात उसे एक ही चिंता सताती रहती थी। उसकी मृत्यु के बाद उसके इतने बड़े व्यापार और धन-संपत्ति को कौन संभालेगा।पुत्र

Read More

जाने 2016 में श्राद्ध की तिथि तथा श्राद्ध का महत्त्व और इसे कैसे किया जाता है

ऐसा माना जाता है की किसी मनुष्य के  ,मरने के बाद विधिपूर्वक श्राद्ध और तर्पण ना किया जाए तो उसे मुक्ति नहीं मिलती और उसकी  आत्मा भूत के रूप में  भटकती रहती है। पितृ पक्ष  या आम भाषा में कडवे दिन हिन्दू धर्म में मृत्यु के बाद श्राद्ध करना बेहद जरूरी माना

Read More