Wednesday, 26 July, 2017
Home > home

इनका सम्मान करने पर धर्म, अर्थ, काम व मोक्ष, सब कुछ प्राप्त हो सकता है

भगवान विष्णु परमात्मा के तीन स्वरूपों में से एक जगत के पालक माने गए हैं। श्रीहरि ऐश्वर्य, सुख-समृद्धि और शांति के स्वामी भी माने जाते  हैं।भगवान विष्णु को प्रशन्न करने के लिए एकादशी व्रत रखे जाते है ।एक कृष्ण पक्ष में और एक शुक्ल पक्ष में। दोनों ही पक्षों की

Read More

ये है साधारण से नमक का चमत्कार

नमक जब तब भोजन में ना डले तब तक भोजन करने का मजा ही नहीं आता । नमक बेहद जरूरी है हमारे शरीर के लिए क्योंकि  यह हमारे शरीर को नियंत्रित रखता है पर आप यह जानते है की इसके अन्य और भी लाभ है । तो आइए जाने नमक

Read More

थोडा ध्यान अपने घर को चमकाने में भी दीजिए

मेरा घर सबसे सुन्दर ओर चमचमाता हो यह तो हर कोई चाहता है  आज हम आपको कुछ घरेलु टिप्स दे रहे है जिसे आजमा कर आप अपने घर को और  घर के बर्तनों को चमका सकते है तो पढ़िए  कुछ घरेलु नुस्के जिसे आप अपना कर अपने घर को चमकाए। नीबू

Read More

बात करने से ही निकलता है समस्या का हल

स्वेता और राज एक दुसरे  के बचपन के अच्छे दोस्त थे एक स्कूल में साथ पड़े और बड़े होकर भी एक ही कॉलेज में साथ पड़े एक दुसरे को पसंद करने लगे धीरे धीरे और उनका प्यार बहुत गहरा हो गया राज ऑफिस में और स्वेता घर पर बस एक

Read More

नन्ही चिडिया

एक पेड़ पर एक चिड़िया रहता था  वह एक दिन खाने की तलाश में दूर दुसरे गाँव जा पहुचा  जहा खूब गेहू लगे थे वह उसे देख कर खुश हुआ। और  उस खुशी में रात को वह घर आना भी भूल गया| इधर शाम को एक खरगोश उस पेड़ के पास आया

Read More

बनता काम बिगडता हो, लाभ न हो रहा हो तो करिए ये आसान उपाय

क्या आपके जीवन से परेशानिया जा नही रही  आप बहुत परेशान है तो करिए ये कुछ उपाय जो हम आपको बता रहे है आर्थिक समस्या के छुटकारे के लिए: यदि आप हमेशा आर्थिक समस्या से परेशान हैं तो इसके लिए आपहर शुक्रवार को कन्याओ को खीर बना कर खिलाये लाभ होगा घर और कार्यस्थल

Read More

दो दोस्त

पहला दोस्त –तेरी बीवी ने तुझे घर से क्यों निकाल दिया यार ? दूसरा दोस्त - साले तेरे कहने पर उसे चैन गिफ्ट की थी, इसलिए निकाल दिया| पहला दोस्त-कमाल है यार मेरी वाली तो खुस हो गई थी| चांदी की दी थी क्या?तूने| दूसरा दोस्त- नही साईकिल की चैन दी थी|

Read More

मेहनत

मेहनत से मीकु ने बनाया जाड़े का घर – मीकु खरगोश को जाड़े के आगमन का अहसास हो रहा था|उसने सोचा ,हर साल उसे सर्दी में ठिठुरना पड़ता है|क्यों न इस बार दोस्तों के साथ मिलकर अपने लिए एक घर बना ले| इस प्रस्ताव को लेकर वह अपने दोस्तों कालूभालू, के पास

Read More