Home > hindi kahani

व्यक्ति का रूप कैसा भी हो, वह अपने गुणों से पहचाना जाता है

एक लड़का था गोपू,, गोपू को हमेशा से ही अभिनय का शौक था। लेकिन देखनें  में वह कुछ खास नही था। उसे लगता था कि वह ज्यादा सुंदर न होने

दान के बदले नाम, कहीं आप कब्रिस्तान तो नहीं बनवा रहे

बात बहुत पुरानी है। एक बार एक संत ने जन कल्याण हेतु एक योजना आरंभ की। इस योजना को पूरा करने के लिए तन मन और धन तीनो की ही

इर्ष्या में किया खुदका नुकसान

एक व्यक्ति था शिवलाल वह कही जा ही रहा था और बहुत जल्दी में था, तो अचानक वहा न्याय के देवता यमराज प्रकट हुए यमराज ने शिवलाल से पीने के

किसी पराए को अपनो की तरह पाला तो काम आया

मुझे घुमने का बड़ा शौक है नई-नई जगहों के बारे में जानना मुझे बहुत पसंद है  कई  साल पहले की बात है मुझे केरल घुमने का मन हुआ मै अगले

error: Content is protected !!