Thursday, 14 December, 2017
Home > dev

इस विशेष मंत्र के साथ करे देवो की परिक्रमा और पाए लाभ

संसार में कुछ लोग आस्तिक है तो कुछ नास्तिक ,पर धर्म कर्म का विशेष महत्व बताया गया है ज्योतिष शास्त्रों में पूजा पाठ के बाद परिक्रमा करना पूजन का खास

स्वयं महादेव भी नही बच पाए थे शनि की वक्र दृष्टि से

भगवान शिव इस सुंदर श्रृष्टि के निर्माण नायक है उन्होंने इंसान जानवर सबको बनाया और देवो को शक्ति दी उन्ही में से एक देव है।शनि देव जिनको कर्म फलदाता की

इस ज्योतिर्लिंग के स्थापना के पीछे कुंभकर्ण के पुत्र की है एक कथा

भीमशंकर महादेव काशीपुर में भगवान शिव का प्रसिद्ध मंदिर और तीर्थ स्थान है। यहां का शिवलिंग काफी मोटा है जिसके कारण इन्हें मोटेश्वर महादेव भी कहा जाता है। पुराणों में

कुकुर देव की होती है पूजा यहाँ

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के खपरी गांव में ‘कुकुरदेव‘ का एक बहुत ही प्राचीन मंदिर स्थित है यह मंदिर किसी देवी-देवता को नहीं बल्कि कुत्ते के लिए जाना जाता है यहाँ कुत्ते