Home > सुविचार

अपनी महिला मित्रों के प्रति कोई गलतफहमी ना पाले

कोई भी महिला मित्र आपकी friend request को स्वीकार करती है ।तो वो आपकी मित्रता स्वीकार करती है...आपका प्रपोजल नही। कोई महिला आपको friend request भेजती है तो वो आपकी मित्र

सच्ची सुंदरता…

"सुन्दरता वह नही जो उपर से दिखाई दे या दुनियाँ भर के मेकप के द्वारा  कुछ पल के लिए हो,सुन्दरता  तो वह है, जिसमे मुस्कुराता चेहरा ,नम्रता, शालीनता , गम्भीरता

घमंड

’’किसी काम में असफलता पाने पर दुखी न हो’’ ‘’और किसी काम में सफल होने पर घमंड  न करे’’ ‘’क्योकि नियति का दस्तूर है  घमंड को एक दिन चूर होना है ’’ ‘’और

इंसान के दो चेहरे

‘’इसान जब तक गरीब होता है तब तक उसका दिल खूब बड़ा होता है’’ ‘’उसके दिल में सबके लिए इज्जत होती है भावनाए होती है,सब के बारे में अच्छा ही सोचता है’’ ‘’पर जब

गलती को स्वीकारना

गलती को स्वीकारना अपनी गलती स्वीकार कर लेने में लज्जा की कोई बात नहीं है। इससे, दुसरे शब्दों में, यही प्रमाणित होता है कि। बीते हुए कल की अपेक्षा