Home > धर्म कर्म > पूजा-पाठ
Vishnu bhagwan aarti Om Jai Jagdish Hare in hindi

विष्णु भगवान की आरती

ओम जय जगदीश हरे आरती ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे। भक्त जनों के संकट, क्षण में दूर करे॥ ओउम...... जो ध्यावे फल पावे, दुःख विनसे मन का। सुख सम्पति घर आवे,

Maa Ambe ji ki Aarti

माँ अम्बे जी की आरती

आरती: अम्बे जी की जय अम्बे गौरी मैया जय श्यामा गौरी । तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी ॥ मांग सिंदूर विराजत टीको मृगमद को । उज्ज्वल से दोउ नैना, चंद्रवदन नीको ॥ जय.. कनक

Ganesh ji ki Aarti in Hindi

गणेश जी की आरती

आरती श्री गणपति जी की जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा माता जाकी पार्वती पिता महादेवा ॥ जय... एक दंत दयावंत चार भुजा धारी। माथे सिंदूर सोहे मूसे की सवारी ॥ जय... अंधन को

श्री सत्यनारायण व्रत कथा

भगवान सत्यनारायण कौन है उन्हें क्या प्रसाद चढ़ता है तथा उनकी कथा क्या है आइए जाने

यह कथा भगवान विष्णु  के सत्य स्वरूप की सत्यनारायण व्रत कथा है। सत्यनारायण भगवान की कथा लोगो में बहुत प्रचलित है।  यह हिंदू धर्म में  सबसे प्रतिष्ठित व्रत कथा के

इसीलिए नही चढाई जाती,भगवान गणेश को तुलसी दल

माँ पार्वती तथा महादेव के पुत्र श्री गणेश के बारे में रोचक कथा वैसे तो  श्री गणेश का पूर्ण जीवन ही रोचक घटनाओं से भरा है भगवान गणेश  जी को

शिवरात्रि का व्रत शिव की कृपा प्राप्त करने का सबसे सुगम साधन है!

शिव को प्रसन्न कर कोई भी व्यक्ति कठिन समय तथा संकटों से उबरकर सभी प्रकार के पारिवारिक एवं सांसारिक सुख आदि प्राप्त कर सकता है। महा शिवरात्रि का व्रत फाल्गुन

क्या आप जानते है शिव को झूठे लोग पसंद नहीं?

झूठ बोलने वाले लोग शिव को प्रिय नहीं हैं। इसी कारण शिव ने माता पार्वती का त्याग कर दिया था। क्योंकि उन्होंने भगवान राम से सीता रूप में मिलने के

भगवान शिव तथा माता सती का अदभुत प्रेम

सती परम पवित्र हैं, इसलिए इन्हें छोड़ते भी नहीं बनता और प्रेम करने में बड़ा पाप है। प्रकट करके महादेवजी कुछ भी नहीं कहते, परन्तु उनके हृदय में बड़ा संताप

माँ संतोषी की कथा तथा पूजा विधि

संतोषी माता को हिंदू धर्म में संतोष, शांति और वैभव की माता के रुप में पूजा जाता है संतोष हमारे जीवन में बहुत जरूरी है संतोष ना हो तो इंसान