Sunday, 19 November, 2017
Home > धर्म कर्म > माँ वैष्णो धाम से जुडी कुछ कथाए

माँ वैष्णो धाम से जुडी कुछ कथाए

माता के इन तीन पिंडों का चमत्कारी प्रभाव भी रोचक है। यह आदिशक्ति के तीन रूप माने जाते हैं – पहली पिंडी मां महासरस्वती की है, जो ज्ञान की देवी हैं; दूसरी पिंडी मां महालक्ष्मी की है, जो धन-वैभव की देवी हैं और तीसरी पिंडी मां महाकाली को समर्पित है, जो शक्ति का रूप मानी जाती हैं।

इन तीन पिंडों का मनुष्य के जीवन से गहरा रिश्ता है। जीवन को सफल बनाने के लिए विद्या, धन और बल तीनों ही जरूरी होते हैं, इसलिए इन्हें हासिल करने के लिए भक्त कठोर परिश्रम कर, पहाड़ियों की यात्रा पूर्ण करता हुआ माता के दरबार में पहुंचता है।

6

जो जितने उत्साह से इस यात्रा को पूरा करता है, माता का आशीर्वाद उतना ही उस पर बढ़ता चला जाता है।

‘जय माता दी’

Page: 5 of 5
Title: pilgrimage to maa vaishno dham in religion
Shanu Shetri
Shanu Shetri - Editor at hindirasayan.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *