Thursday, 21 September, 2017
Home > स्‍वास्‍थ्‍य टिप्‍स > भृंगराज छोटा सा पौधा है,पर इसके गुण जानकर रह जायंगे दंग

भृंगराज छोटा सा पौधा है,पर इसके गुण जानकर रह जायंगे दंग

भृंगराज  छोटा सा पौधा है,पर इसके गुण जानकर रह जायंगे दंग ( bhringraj benefits )

भृंगराज एक छोटा सा पौधा है पर काम बड़े बड़े करता है । इस पौधे में  फैटिक एसिड  और निकोटीन  जैसे  कई तत्व पाए जाते है ।  यह हमारे हर भाग के लिए बहुत फायदेमंद होता है शरीर के कई अंगो के लिए इसका इस्तमाल लाभप्रद है । तो आइए जाने इसके लाभ क्या क्या है ।

भृंगराज और रुसी

100 में से 80 प्रतिशत लोग रुसी जैसी समस्या से जूझ रहे है । तो आप रुसी  दूर करे भृंगराज के तेल से यह मार्केट  में आराम से मिल जाता है या आप ऐसा भी कर सकते है । यदि आप के आस-पास या कही और  से भृंगराज के पौधे मिल जाए तो आप उसे पिस कर उसका रस निकाल ले । फिर नियमित मसाज करने से रुसी दूर रहती है। इसका नियमित इस्‍तेमाल बालों को समय से पहले  सफेद होने से रोकता भी है ।

भृंगराज और तनाव:

मनुष्य के पित्‍त के असंतुलन से शरीर और मन में तनाव होने लगता है। भृंगराज का इस्‍तेमाल करने से  पित्‍त की समस्या भी कम होती है । भृंगराज से मसाज करने से चिंता और सिरदर्द से भी छुटकारा पाया जा सकता है ।

भृंगराज और बाल:  

भृंगराज का पौधा मिल जाए  तो अच्छा है वरना आप  पाउडर को खरीदकर अपने तेल में मिलाकर इसे बालों  पर लगा  सकते हैं। तेल को लगाकर कुछ घंटों के बाद धो सकते हैं।ऐसा करने से बालो का झड़ना टूटना ,असमय सफेद होना आदि की शिकायत दूर हो जाएगी ।

भृंगराज और शरीर:

भृंगराज के उपयोग से अधिक उम्र के लोग भी कम उम्र के दिखने लगते है । यह शरीर के लिए  बहुत लाभकारी जडीबुटी है  इसमें  पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा प्रदान करने की क्षमता पाई जाती है। इसमें  बढती उम्र  में जो चेहरे पर लाइन या रेखाए आती है तो उन्हें भीं   रोकने के भी गुण पाए जाते है।

6a013483f8bf49970c0147e047ca3d970b

भृंगराज और आँख 

भृंगराजके पत्तों को सुखा कर  उसका चूर्ण  बना लो अब उस चूर्ण  को ।  शहद और  गाय के घी में मिलाकर  प्रतिदिन सोने से पहले  एक चम्मच रात को एक महिने तक   खाए । ऐसा करने से आंखों की कमजोरी और  आंखों से संबंधित सभी समस्याएँ दूर होने लगती है।

भृंगराज और पीलिया

लीवर को स्वस्थ रखने के लिए  भृंगराज एक रामबाण बूटी है । अक्सर  पीलिया के रोगी पाए जाते है इस बीमारी के लिए  भृंगराज बहुत ही प्रभावशाली है। भृंगराज के पत्ते और  काली मिर्च को  पीस कर । इसको मठ्ठे में मिलाकर दिन में दो बार पिने से पीलिया को दूर कर सकते है ।

भृंगराज और महिला

महिलाओ के गर्भाशय के लिए भृंगराज गुणकारी बूटी है  महिलाओ के  गर्भाशय को मजबूत बनाने के लिए भृंगराजकी ताजी पत्तियों  से रस निकाल कर  रोज पीना चाहिए इससे उनके गर्भधारण में किसी प्रकार की समस्या नही आएगी फिर

भृंगराज और तोतलापन

कही से इसका पौधा मिल जाए तो  उसके रस में देशी घी मिला कर पका कर कम से कम  2 चम्मच  रोज पिलाय  ,एक महीने  तक लगातार तो उस व्यक्ति का तोतलापन दूर हो जाएगा ।

Title: bhringraj benefits

मिली-जुली खबरें

Shanu Shetri
Shanu Shetri - Editor at hindirasayan.com.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *