Tuesday, 17 January, 2017
Home > आज का विचार

शांति क्या है?

शांति मधुरता और भाईचारे की अवस्था है, जिसमें बैर नही  होता है।यह शब्द युद्ध और कलह  का विलोम है। अगर देखा जाए तो शांति के बिना जीवन का आधार नही है ,लेकिन मानव की स्वार्थसिद्धी के कारण शांति का पतन होता जा रहा है। और आज आम आदमी के जीवन

Read More

गलती को स्वीकारना

गलती को स्वीकारना अपनी गलती स्वीकार कर लेने में लज्जा की कोई बात नहीं है। इससे, दुसरे शब्दों में, यही प्रमाणित होता है कि। बीते हुए कल की अपेक्षा आज आप अधिक बुद्धिमान हैं। – अलेक्जेन्डर पोप

Read More

कुछ न करना

कुछ न करना कुछ न कुछ कर बैठने को ही कर्तव्य नहीं कहा जा सकता कोई समय ऐसा भी होता है, जब कुछ न करना ही सबसे बड़ा कर्तव्य माना जाता है – रवीन्द्रनाथ ठाकुर

Read More

आपका विचार

आपका विचार आपके विचार आपके वाक्य तय करते है, आपके वाक्य आपके कृती में बदलते है, आपकी कृती आपकी आदत में बदलती है, आपकी आदते आपका व्यक्तित्व  तय कराती है, और आपका व्यक्तित्व  आपका कर्म तय करती है

Read More

धन बढ़ता है

धन उत्तम कर्मों से उत्पन्न होता है, साहस, योग्यता व दृढ़ निश्चय से बढ़ता है, चतुराई से फलता फूलता है और संयम से सुरक्षित होता है।

Read More