Thursday, 25 May, 2017
Home > ज्योतिष

शनि जयंती : में करे ‘शनिदेव ’और ‘पितृदेव’ को खुश

कल है शनि जयंती शास्त्रों के अनुसार भगवान शनि का जन्म ज्येष्ठ महिने की अमावस्या को हुआ था,इसीलिए ज्येष्ठ महिने की अमावस्या को शनि जयंती के रूप में मनाई जाती है।ज्योतिष अनुसार शनिदेव की जो पूजा करता है उस पर शनि की कृपा बनी रहती है।आज हम इसी विषय में

Read More

बडो के चरण स्पर्श : करने से होते है ये लाभ

यह बात तो आप सभी जानते है की ,हिन्दू धर्म में बड़े बुजुर्गो के चरणों को स्पर्श किया जाता है। उनको इस तरह मान सम्मान दिया जाता है और बदले में उनसे आशीर्वाद लिया जाता है।ये हमारे संस्कारो को प्रदर्शित करने का एक तरीका  भी है।शास्त्रों के अनुसार यदि हर

Read More

क्या आप जानते है?अंतिम संस्कार के बाद नहाना क्यों जरूरी है!!

आपने देखा ही होगा सभी धर्मो के लोग अंतिम संस्कार को पूरे विधि-विधान से करते है और  जब किसी व्यक्ति की मृत्यु होती है तो उसको कन्धा देने या उसकी अंतिम यात्रा में जरुर शामिल होते है । सभी धर्म के अलग-अलग नियम होते है पर एक नियम ऐसा होता

Read More

रात्रि में हुआ है आपका जन्म,तो जानिए कुछ अपने बारे में

किसी भी व्यक्ति के बारे में उसके जन्म के समय  के आधार पर जाना जा सकता है ।तथा उसके आव-भाव और भविष्य के बारे में भी  जाना जा सकता है। ज्योतिष के ज्ञानियों के अनुसार  आज हम आपको बतायेंगे की  रात्री में जन्म लेने वाले बालक-बालिका का व्यवहार कैसा होता है

Read More

घर में रखे इन वस्तुओ को और देखिए चमत्कार ! देवी लक्ष्मी भर देगी धन के भंडार

माँ लक्ष्मी धन की देवी मानी जाती है।सूखी जीवन के लिए इन्हें प्रसन्न रखना बहुत ही जरुरी है ।कुछ वस्तुए ऐसी है ,जिनको घर में रखने से माँ लक्ष्मी अत्यंत प्रसन्न हो जाती है। ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार घर में इन चीजों को लाने से धन,धान्य,सौभाग्य में वृद्धि होती है।आज

Read More

जानिए किस माह में जन्मी स्त्री होती है उत्तम !

संसार की सबसे खूबसूरत रचना एक स्त्री को माना जाता है।  इस संसार को चलाने वाली एक स्त्री ही है। जिसके बिना इस संसार का चलना मुस्किल है एक स्त्री  ही माँ,बेटी,बहु,पत्नी,बहन,का रिश्ता निभा कर इस संसार में अपनी ममता को नौछावर करती है। कहा जाता है की किसी भी स्त्री को

Read More

इस विशेष मंत्र के साथ करे देवो की परिक्रमा और पाए लाभ

संसार में कुछ लोग आस्तिक है तो कुछ नास्तिक ,पर धर्म कर्म का विशेष महत्व बताया गया है ज्योतिष शास्त्रों में पूजा पाठ के बाद परिक्रमा करना पूजन का खास अंग है। शास्त्रों में माना गया है कि परिक्रमा से पाप खत्म होते हैं। विज्ञान की नजर से देखें तो

Read More
learn about 12 houses in astrology hindirasayan

क्या कहते है जन्मकुंडली के 12 भाव

हिन्दू ज्योतिष में जिस प्रकार बारह राशियाँ होती है ठीक उन्ही के आधार पर बारह भावों की रचना की गयी है । इन बारह भावों पर ही पूरा ज्योतिष आधारित है । जिस तरह किसी कंपनी का सेल्समेन (बिक्रीकर्ता) उस कंपनी रिप्रेजेन्टेटिव यानि प्रतिनिधि बनकर आपको कंपनी के विषय में अच्छा

Read More

इन मंत्रो का करे उच्चारण और दूर करे अपने जीवन की परेशानियों को

मंत्रो का एक विशेष महत्व है जो की प्राणी के जीवन पर प्रभाव डाल सकते है अच्छे या बुरे यह मंत्र प्राणी के जीवन को बदल सकते है। आदि काल में हमारे ऋषि मुनियों ने विशेष शोध  कर मन्त्रो का निर्माण किया  जिनके सही और लयबद्ध गायन से प्रभावशाली क्रिया

Read More

तो ये है चन्द्र देव और बुध का सम्बन्ध

कथाओं के अनुसार चन्द्रमा मन मौजी थे जिनको किसी बात का भय नही था, चन्द्रमा के  गुरु थे बृहस्पति ,चन्द्रदेव ने अपने गुरु की पत्नी तारा का अपहरण किया।और उनसे नाजायज़ सम्बन्ध बनाए जिनके सम्बन्ध से बुध उत्पन्न हुए। बालक बुध अत्यन्त सुन्दर थे। चन्द्रमा ने बालक बुध को अपना पुत्र

Read More